दिल्ली के प्रसिद्ध मंदिर

देश की राजधानी दिल्ली न केवल भारत के सबसे बड़े शहरों में से एक है, बल्कि आधुनिकता प्राचीनता, संस्कृति, कला, वास्तुकला और आध्यात्मिकता का अद्भुत संयोजन भी है

अक्षरधाम मंदिर

बता दे अक्षरधाम मंदिर साल 2005 में खोला गया था, जो भगवान स्वामीनारायण को समर्पित है। इस मंदिर की सबसे खास बात यह है कि इस मंदिर ने दुनिया के सबसे बड़े व्यापक हिंदू मंदिर के रूप में गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में अपनी जगह बनाई है

छतरपुर मंदिर

साउथ दिल्ली में स्थित, छतरपुर मंदिर देवी कात्यायनी को समर्पित दिल्ली का प्रसिद्ध मंदिर है जिसे श्री आद्य कात्यायनी शक्ति पीठम के नाम से भी जाना जाता है। आपकी जानकारी के लिए बता दे इस मंदिर का निर्माण संत शिरोमणि बाबा नागपाल के अनुकरणीय प्रयासों से किया गया था

कालकाजी मंदिर

कालकाजी मंदिर कालका देवी को समर्पित है, जो देवी शक्ति या दुर्गा के अवतारों में से एक हैं। मंदिर में स्थित देवी कालका की मूर्ति स्वयंभू बताई जाती है। दिल्ली के इस प्रसिद्ध मंदिर को जयंती पीठ मनोकामना सिद्ध पीठ के नाम से भी जाना जाता है जिसका अर्थ होता है कि देवी भक्तों की मनोकामना को पूरा करती हैं

योगमाया मंदिर

दिल्ली के प्रमुख मंदिर में से एक योगमाया मंदिर दिल्ली के साथ साथ पूरे भारत का एक प्रसिद्ध मंदिर है जो कुतुब परिसर के करीब महरौली, नई दिल्ली में स्थित है। योगमाया मंदिर एक प्राचीन हिंदू मंदिर है जिसे जोगमाया मंदिर के रूप में भी जाना जाता है जो देवी योगमाया, कृष्ण की बहन को समर्पित है

श्री किलकारी भैरव नाथ मंदिर

प्रगति मैदान में पुराने किले के पीछे स्थित, श्री किलकारी भैरव नाथ मंदिर दिल्ली का एक अनूठा हिंदू मंदिर है। कई लोगों का मानना है कि इस मंदिर का निर्माण पांडवों ने करवाया था। यह मंदिर भक्तों को देवता की पूजा करने के बाद शराब पीने की अनुमति देने की अपनी अनूठी संस्कृति के लिए जाना जाता है

प्राचीन हनुमान मंदिर कनॉट प्लेस

दिल्ली के कनॉट प्लेस में स्थित प्राचीन हनुमान मंदिर दिल्ली का एक और प्रसिद्ध मंदिर है जो स्थानीय लोगो के साथ साथ दूर दूर से आने वाले श्रद्धालुयों के लिए आस्था का केंद्र बना हुआ है। यह प्राचीन मंदिर महाभारत के समय में बनाए गए पांच मंदिरों में से एक माना जाता है

ये हैं मायानगरी मुंबई के टॉप 5 बिज़नेस ऑडियाज़