लक्षद्वीप जाना है काफी आसान, जान लीजिए ट्रेन से लेकर फ्लाइट तक का खर्चा

लक्षद्वीप काफी ज्यादा चर्चा का विषय बन गया है. देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के दौरे और उसके बाद मालदीव के सरकारी अधिकारियों के टिप्पणियों के बाद से ही ये सुर्खियां बटोर रहा है

दिल्ली से ही नहीं बल्कि किसी भी देश के कोने से लक्षद्वीप जाने के लिए कोई सीधी ट्रेन नहीं है. इसके लिए आपको केरल के एर्नाकुलम साउथ रेलवे स्टेशन पहुंचना होगा

वहां से आपको समुद्र और हवा के माध्यम से लक्षद्वीप पहुंचना होगा. अगर हम दिल्ली की बात करें, तो वहां से एर्नाकुलम जाने के लिए कई ट्रेनें हैं

एर्नाकुलम से लक्षद्वीप पहुंचने के लिए दो तरीके हैं. पहला तरीका है हवाई मार्ग और दूसरा है समुद्र मार्ग. सबसे पहले हवाई मार्ग की बात करते हैं. लक्षद्वीप में अगत्ती द्वीप पर अगत्ती हवाई अड्डा है

दूसरा तरीका समुद्र मार्ग का है, जिससे जहाज लक्षद्वीप पहुंच सकते हैं. भारतीय नौवहन निगम से कोची से कई फेरी सेवाओं का विकल्प है

लक्षद्वीप पहुंचने का समय 12 से 20 घंटे का है. वर्तमान में 7 जहाज सेवा प्रदान कर रहे हैं. इनमें MV अमिंडिवी, MV अरबियन सी, MV भारत सीमा, MV द्वीप सेतु, MV कवरत्ती, MV लक्षद्वीप सागर और MV मिनिकॉय शामिल हैं. सभी के लिए किराया अलग-अलग है.

टीवीसी राजधानी में यात्रा करने में लगभग 37 घंटे का समय लगेगा. 3 एसी के लिए किराया 4850 रुपये है, 2 एसी के लिए किराया 6665 रुपये है, और 1 एसी के लिए किराया 8885 रुपये है.