भारत की सबसे डरावनी और भूतिया जगह

क्या आप जानतें हैं भारत की सबसे डरावनी जगह कौन सी हैं? भारत में कुछ ऐसे स्थान भी हैं, जो वाकई में आपको हैरान कर देगे। जी हां हम बात कर रहे हैं भारत की सबसे भूतिया जगहों की। दुनिया में उपस्थित अन्य जीवो से अलग मानव एक ऐसा प्राणी है जिसको हमेशा से रहस्यों के बारे में जानने की दिलचस्पी रहती है।

दुनिया में कई ऐसे रहस्य है जिन्होंने हमेशा मानव मन को मोहित किया है, इसलिए मनुष्य इन रहस्यों और इतिहास के बारे में जानने के लिए काफी उत्सुक रहता है। भारत एक ऐसा देश है जो बहुत सारे महलों और उनके राजाओं उनके खजाने और उनकी चाबियों के रहस्यों और कई तरह की कहानियों से भरपूर है।

भानगढ़ का किला राजस्थान

राजस्थान के शहर भानगढ़ में स्थित भानगढ़ का किला भारत की सबसे डरावनी जगहों में से एक है, इस जगह के बारे में सोच कर ही लोगों की रूह काँप जाती है। भानगढ़ किले को भारत में सबसे प्रेतवाधित स्थानों में से एक बताया जाता है। भानगढ़ एक जंगल के पास स्थित एक ऐसी जगह है, जो अपने भूतिया किस्सों की वजह से भारत में सबसे ज्यादा फेमस हैं

कुलधरा गाँव राजस्थान

ऐसा बताया जाता है कि यह ग्रामीणों का एक अभिशाप है जो 7 शताब्दियों तक वहाँ रहने के बाद रातों-रात वहाँ से गायब हो गया था। अब यह गाँव पूरी तरह से खंडर बन चुका है। कुलधारा गाँव 1291 में पालीवाल ब्राह्मणों द्वारा स्थापित किया गया था। यह जगह व्यापार कौशल और कृषि ज्ञान के लिए जानी-जाती थी, लेकिन बताया जाता है कि 1825 में एक रात कुलधारा और आसपास के 83 गांव के सभी लोग अंधेरे में गायब हो गए।

जमाली-कमली मस्जिद

ऐसा कहा जाता है कि जमाली- कमली की दीवारों के भीतर जिन्न रहते हैं जो कई किस्सों की वजह से चचित हैं। यहाँ पर होने वाले अनपेक्षित घटनाओं की वजह से लोग यहाँ जाने से बहुत डरते हैं। इस्लामी महापुरूषों की माने तो जिन्न मनुष्यों के समानांतर ब्रह्मांड में रहते हैं। ऐसा कहा जाता है कि भगवान ने मनुष्यों को रेत और जिन को आग से बाहर कर दिया था इसलिए उनके पास अपने अस्तित्व की दुनिया है और दुनिया पार करने की शक्ति भी है।

रामोजी फिल्म सिटी

भारत की सबसे बड़ी फिल्म सिटी है जिसमे कई बड़े होटल भी हैं। लेकिन एक फिल्म सिटी के अलावा यह जगह “अलौकिक गतिविधियों” की वजह से भी चर्चित है। बता दें कि इन अजीब घटनाओं का ज्यादातर शिकार औरतें और लड़कियां बनती हैं। लोगों ने बताया कि कोई शक्ति लड़कियों के कपड़े खींचती है। लोगों का कहना है कि शूटिंग के समय भी कई बार लाइट मैन को धक्का देकर गिराया जा चुका है जिससे उन्हें गंभीर चोंटे भी आई है।

जतिंगा असम

2500 की आबादी वाला यह गाँव जतिंगा पक्षी आत्महत्याओं की अस्पष्टीकृत घटना के लिए जाना-जाता है। अक्टूबर और नवंबर के महीनों के समय अंधेरी रातों में यहां पक्षियों के आत्महत्या करने के मामले सामने आते हैं। पक्षियों की मौत के पीछे लोग भूतों और कई अलोकिक ताकतों को बताते हैं। लेकिन विज्ञान के हिसाब से बताया जाता है कि तेज बारिश होने की वजह से जब पक्षी यहां से उड़ने की कोशिश करते हैं तो वो गीले हो जाते हैं और उन्हें उड़ने में दिक्कत होती है।